अमेरिका / 181 साल बाद सदन में सिर ढंकने से रोक हटी, 2 सांसद हिजाब पहनकर पहुंचीं

Spread the News

वॉशिंगटन. अमेरिकी संसद कांग्रेस में सिर ढंककर आने पर 181 साल पहले लगाई गई रोक हटा ली गई है। यह फैसला निचले सदन हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स ने किया। मध्यावधि चुनाव में जीत हासिल करने वाली दो मुस्लिम महिलाएं फैसले वाले दिन गुरुवार को ही हिजाब के साथ सदन में पहुंचीं। 1837 में कांग्रेस में हिजाब पहनने पर प्रतिबंध लगाया गया था।

रशीदा तलैब मिशिगन और इल्हान उमर मिनेसोटा की सांसद चुनी गई हैं। ये दोनों डेमोक्रेट्स हिजाब पहनती हैं। उमर ने बदलाव पर खुशी जाहिर करते हुए लिखा, ‘‘कांग्रेस ने 181 साल बाद हिजाब पहनने से प्रतिबंध हटाने के लिए वोट किया, ताकि 116वें सदन में सभी शामिल होे पाएं। मैं अपने स्वागत के लिए साथियों का शुक्रिया अदा करती हूं। चाहती हूं कि मुस्लिमों पर लगे बाकी प्रतिबंध भी हटाए जाएं, जो इन्हें अमेरिकियों से अलग करते हैं।’’

us congress

सोमालियाई शरणार्थी बनकर आई थीं इल्हान  

इल्हान 14 साल की उम्र में सोमालिया से शरणार्थी के तौर पर अमेरिका आई थीं। स्पीकर नेन्सी पैलॉसी और सदन नियम समिति के चेयरमैन जिम मैक्गवर्न ने इल्हान की मांग को स्वीकार करते हुए इसे नियमों के पैकेज में शामिल किया था। पैकेज को मंजूरी मिलने से इल्हान की राह आसान हुई और वे सदन में हिजाब पहनने वाली पहली महिला बनीं। उन्होंने कुरान पर हाथ रखकर पद और गोपनीयता की शपथ भी ली।

मामूली बहस के बाद लगी थी रोक

1837 में निचले सदन ने मामूली बहस के बाद ही कांग्रेस में किसी भी तरह से सिर ढंकने पर रोक लगाई थी। तब तर्क दिया गया था कि चूंकि महिला सांसद नहीं हैं तो सदन में पुरुषों के टोपी पहनने पर रोक लगाई जाए। इससे अमेरिका और ब्रिटेन की संसद में समानता नजर आती है।

#US Congress #Head Coverings

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *